साल में सिर्फ दो महीने मिलता है यह चमत्कारी फल, तेजी से वजन करे कम, चेहरे को रखे फ्रेश और जवां People wait for years for this fruit and as soon as it arrives, they consume several quintals within hours.

जमशेदपुर. इन दिनों बढ़ती गर्मी में लोग जब घर से बाहर निकलते हैं तो अक्सर कुछ ठंडा खाने या पीने की चाह रखते हैं. तो ऐसे में जमशेदपुर के कई सारे चौक चौराहों पर आपको ताल खोवा देखने को मिलेगा, जिसे अंग्रेजी में हम लोग आइस एप्पल भी कहते हैं. आमतौर पर यह फल बहुत कम देखने को मिलता है.

कहा जाता है कि गर्मी में सिर्फ 1 से 2 महीना तक ही इसकी बिक्री होती है. यह फल शरीर को ठंडा रखने का काम करता है. इसके अलावा इसके कई और भी फायदे हैं. कुछ लोगों का ऐसा भी मानना है कि आइस एप्पल वजन कम करने में मददगार होता है. आइस एप्पल में विटामिन ए, सी, ई विटामिन पाया जाता है. तीनों ही विटामिन शरीर के लिए बेहद ज़रूरी माने जाते हैं.

खाज खुजली को रखे दूर
आइस एप्पल में काफी मात्रा में पानी होता है. जिसके कारण यह शरीर को ठंडा रखता है और पानी की कमी को भी दूर करता है. यह फल आपको खाज खुजली से भी काफी दूर रखता है. स्किन को एक नेचुरल ग्लो भी प्रदान करता है. इससे चेहरा फ्रेश और जवां बना रहता है. साथ ही साथ घमौरिया या फिर पिंपल्स के लिए भी यह काफी असरदार साबित होता है.

20 रुपए के तीन पीस
यह फल जमशेदपुर में 20 रुपए के तीन पीस बिक रहा है जो कि जमशेदपुर के आसपास के जंगल जैसे डोबो, मुखिया डागा, गमहरिया, घाटशिला और आसनसोल जैसे क्षेत्र से तोड़कर ग्रामीणों के द्वारा लाया जाता है. इस फल को काटने के बाद 2 से 3 दिन तक ठंडी जगह पर रखकर खाया जा सकता है. यह फल ज्यादातर जमशेदपुर के महाराणा प्रताप चौक से लेकर मानगो जाने वाले रास्ते में देखा जा रहा है.

Tags: Eat healthy, Jamshedpur news, Jharkhand news, Latest hindi news, Local18

Disclaimer: इस खबर में दी गई दवा/औषधि और स्वास्थ्य से जुड़ी सलाह, एक्सपर्ट्स से की गई बातचीत के आधार पर है. यह सामान्य जानकारी है, व्यक्तिगत सलाह नहीं. इसलिए डॉक्टर्स से परामर्श के बाद ही कोई चीज उपयोग करें. Local-18 किसी भी उपयोग से होने वाले नुकसान के लिए जिम्मेदार नहीं होगा.

Source link


Discover more from Khabar Ok News

Subscribe to get the latest posts to your email.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Discover more from Khabar Ok News

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading